Friday, March 1, 2024
الرئيسيةNationalकांग्रेस पार्टी का महंगाई, जीएसटी व सरकार की नीतियों के ख़िलाफ़ संसद...

कांग्रेस पार्टी का महंगाई, जीएसटी व सरकार की नीतियों के ख़िलाफ़ संसद से सड़क तक ज़ोरदार प्रदर्शन

नई दिल्ली (अनवार अहमद नूर )
देश की एतिहासिक कहलाने वाली पार्टी कांग्रेस ने महंगाई, जीएसटी और केंद्र सरकार की नीतियों के खिलाफ आज सुबह से ही संसद से सड़क तक ज़ोरदार प्रदर्शन किया। इस बार कांग्रेस का हल्ला बोल अलग ही रूप और अंदाज़ में दिखा। सबसे पहले सोनिया ने कांग्रेसी सांसदों के साथ संसद में काले कपड़े पहनकर जमकर नारेबाजी की। उसके बाद, राहुल संसद से राष्ट्रपति भवन तक मार्च निकालने के लिए निकले, लेकिन पुलिस ने उन्हें रोक दिया और हिरासत में ले लिया। इसके बाद, पार्टी मुख्यालय में मौजूद प्रियंका गांधी अपने सांसदों के साथ पीएम आवास घेरने के लिए निकलीं, लेकिन यहां भी पुलिस ने उन्हें आगे नहीं बढ़ने दिया। इसलिए वे सड़क पर ही घरने पर बैठ गईं।

पुलिस ने उन्हें भी हिरासत में ले लिया। इस दौरान अजय माकन, सचिन पायलट, हरीश रावत, अविनाश पांडे सहित कांग्रेस के सभी बड़े नेताओं को हिरासत में लिया गया। लेकिन अपनी पूरी शक्ति के साथ कांग्रेस पार्टी ने पूरे देश में प्रदर्शन किया और सभी स्थानों पर पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को रोका। प्रदर्शन को देखते हुए दिल्ली के जंतर-मंतर इलाके को छोड़ पूरी दिल्ली में धारा 144 लगाई गई। दिल्ली पुलिस ने कहा कि लॉ एंड ऑर्डर को देखते हुए यह फैसला किया गया। लेकिन कांग्रेस जनों ने अपना विरोध जारी रखा।

कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने कहा कि सरकार हमें महंगाई के खिलाफ विरोध करने से रोकना चाहती है, इसलिए लगातार कांग्रेस नेताओं को परेशान कर रही है। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि राहुलजी ने जो कहा आप समझ लें कि देश में क्या हालात हैं। किसी ने नहीं सोचा होगा कि देश में लोगों को लोकतंत्र समाप्त होते देखना होगा। देश में ED, इनकम टैक्स, CBI का आतंक है। दिल्ली, मुंबई,बिहार समेत देशभर में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने महंगाई के खिलाफ प्रदर्शन किया।
महंगाई के खिलाफ कांग्रेस राजस्थान में भी ज़ोरदार प्रदर्शन हुआ। अलग-अलग जिलों में नेताओं ने नए-नए तरीकों से विरोध प्रकट किया। राजस्थान से बड़ी संख्या में कांग्रेसी नेता और कार्यकर्ता दिल्ली में हो रहे प्रदर्शन में भी शामिल होने पहुंचे हैं। यहां कांग्रेस के राजस्थान प्रभारी अजय माकन, पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट को दिल्ली में प्रदर्शन के दौरान हिरासत में ले लिया गया।
बिहार के पटना में कांग्रेस अध्यक्ष के नेतृत्व में सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने मार्च निकाला। मार्च को पुलिस ने रोका, हंगामा हुआ और सड़क पर नारेबाजी हुई। पुलिस ने कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा को हिरासत में लिया।
छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में कांग्रेस ने अपना विरोध प्रदर्शन किया। देश में बढ़ती मंहगाई और बेरोजगारी को लेकर कांग्रेस ने सड़क व अंबेडकर चौक में धरना देने के बाद प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम समेत कुछ कांग्रेस नेताओं का प्रतिनिधिमंडल राज भवन में राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपकर धरना प्रदर्शन को समाप्त किया।
आज हुई प्रेस कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि ‘क्या आप तानाशाही का मज़ा ले रहे हैं, यहां रोज़ लोकतंत्र की हत्या हो रही है। इस सरकार ने 8 साल में लोकतंत्र को बर्बाद कर दिया।’ मीडिया से बात करते हुए भी उन्होंने अपने बाजू पर काली पट्टी बांध रखी थी।उन्होंने कहा कि देश की मीडिया, इलेक्टोरल सिस्टम इनके दम पर विपक्ष खड़ा होता है, लेकिन देश में हर इंस्टीट्यूट में आरएसएस का आदमी बैठा है। वह सरकार के कंट्रोल में है। जब हमारी सरकार होती थी तब इन्फ्रास्ट्रक्चर न्यूट्रल होता था। हम उसमें दखल नहीं देते थे। आज यह सरकार के साथ है। कोई विरोध करता है तो उसके खिलाफ केंद्रीय जांच एजेंसियां लगा दी जाती हैं। लोकतंत्र की जो मौत हुई, उससे आपको लग रहा होगा कि जिस लोकतंत्र को 70 सालों में बनाया गया, उसे आठ साल में खत्म कर दिया गया। मेरी दिक्कत ये है कि मैं सच्चाई बोलूंगा, महंगाई, बेरोजगारी का मुद्दा उठाने का काम करूंगा। जो डरता है, वो धमकाता है। जो आज देश की हालत है उससे डरते हैं, जो उन्होंने पूरे नहीं किए, महंगाई और बेरोजगारी से डरते हैं। जनता की शक्ति से डरते हैं, क्योंकि ये चौबीस घंटा झूठ बोलते हैं।
ज्ञात रहे कि बढ़ती कीमतों और बेरोजगारी के मुद्दों को लेकर कांग्रेस ने देशभर में प्रदर्शन का फैसला किया था। यह प्रदर्शन सड़क से संसद तक जारी रहा। जहां कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी भी काले कपड़े पहनकर हाथों में बैनर लेकर सरकार के विरोध में नारे लगाती हुई नज़र आईं। इस दौरान उनके साथ केसी वेणुगोपाल समेत कांग्रेस के कई बड़े नेता मौजूद रहे। अधिकांश काले कपड़े पहने हुए थे। इनके अलावा जब कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी कैमरे में नज़र आईं तो वह भी काले कपड़ों में ही सरकार के खिलाफ बयान दे रही थीं। वहीं, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और वायनाड से सांसद राहुल गांधी भी काली शर्ट में ही संसद पहुंचे। राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे भी आज काली पगड़ी और काले कुर्ते में रहे।

RELATED ARTICLES

ترك الرد

من فضلك ادخل تعليقك
من فضلك ادخل اسمك هنا

Most Popular

Recent Comments