Saturday, March 2, 2024
الرئيسيةUncategorizedगैंगस्टर विकास दुबे के एनकाउंटर की जांच रिपोर्ट को सार्वजनिक किया जाए...

गैंगस्टर विकास दुबे के एनकाउंटर की जांच रिपोर्ट को सार्वजनिक किया जाए : सुप्रीम कोर्ट

नई दिल्ली (संवाददाता)

उत्तर प्रदेश के कानपुर में हुए बिकरू कांड के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने यूपी सरकार को बड़ा आदेश देते हुए कहा है कि आरोपी गैंगस्टर विकास दुबे के एनकाउंटर की जांच रिपोर्ट को सार्वजनिक किया जाए। यह रिपोर्ट सुप्रीम कोर्ट की साइट पर उपलब्ध कराई जाएगी। यही नहीं, सुप्रीम कोर्ट ने उत्तर प्रदेश सरकार को जांच समिति की रिपोर्ट पर उचित कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। कोर्ट ने कहा है कि विकास दुबे मुठभेड़ मामले में आयोग द्वारा प्रस्तुत रिपोर्ट में सिफारिशों के आधार पर उचित कार्रवाई की जाए। इसके साथ ही उच्चतम न्यायालय ने न्यायमूर्ति (सेवानिवृत्त) बी एस चौहान समिति की रिपोर्ट को सार्वजनिक करने और उसे अपनी वेबसाइट पर अपलोड करने का आदेश दिया। 

बता दें कि कानपुर में जुलाई 2020 में दबिश देने गई पुलिस टीम पर विकास दुबे ने अपने गुर्गों के साथ फायरिंग की थी, जिसमें आठ पुलिसकर्मी मारे गए थे। इसमें एक डिप्टी एसपी भी शामिल था। इस मामले में फरार चल रहे विकास दुबे को एसटीएफ ने मध्य प्रदेश से गिरफ्तार किया। कानपुर लाते समय रास्ते में उसने भागने का प्रयास किया, तो पुलिस मुठभेड़ में उसे मार गिराया था। उसके बाद उत्तर प्रदेश पुलिस पर आरोप लगा था कि उसने फर्जी तरीके से उसका एनकाउंटर किया है। इसके बाद मृतक की पत्नी ने मामले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी, जिस पर सुप्रीम कोर्ट ने बड़ा आदेश दिया है। 

  • बिकरू कांड : एक नजर में
  • 2 जुलाई – रात लगभग 12:45 बजे गैंगस्टर विकास दुबे द्वारा साथियों के साथ मिलकर आठ पुलिस कर्मियों की हत्या की गयी।
  • 3 जुलाई- सुबह करीब  7:00 बजे पुलिस ने गांव से लगभग 2 किमी दूर कांशीराम निवादा गांव स्थित मंदिर में दबिश देकर विकास के दो अहम गुर्गों अतुल दुबे व प्रेम प्रकाश पांडे को मुठभेड़ में मार गिराया गया।
  • 5 जुलाई – सुबह 4:00 बजे पुलिस ने विकास के नौकर दयाशंकर उर्फ कल्लू को मुठभेड़ के दौरान कल्यानपुर थाना क्षेत्र से गिरफ्तार किया। इसी दिन विकास पर घोषित इनाम की धनराशि बढ़ाकर एक लाख रुपये की गई।
  • 8 जुलाई-  सुबह लगभग 7:00 बजे हमीरपुर के मौदहा क्षेत्र में विकास दुबे के खास गुर्गे व पारिवारिक अमर दुबे को मुठभेड़ के दौरान पुलिस ने ढेर कर दिया। इसी दिन सुबह करीब 8 बजे घटना से जुड़े बिकरू निवासी श्यामू बाजपेई को गांव से कुछ ही दूर बेला मार्ग के निकट से पुलिस ने मुठभेड़ के दौरान गिरफ्तार किया।
  • 9 जुलाई – सुबह फरीदाबाद से गिरफ्तार प्रभात मिश्रा को एसटीएफ ने तब मार गिराया, जब मौका पाते ही उसने हमला बोला था। इसी दिन विकास के एक अन्य साथी प्रवीण उर्फ बउआ दुबे को पुलिस ने इटावा के पास मार गिराया।
  • 9 जुलाई-  बिकरू कांड के मास्टर माइंड कुख्यात विकास दुबे को उज्जैन के महाकाल मंदिर परिसर से गिरफ्तार किया गया।

10 जुलाई-  सुबह लगभग 6:30 बजे यूपी एसटीएफ की टीम ने विकास को उस समय ढेर कर दिया, जब उसने मौका पाते ही एसटीएफ से पिस्तौल छीन भागने का प्रयास किया और बचाव में एसटीएफ पर फायरिंग शुरू कर दी थी

RELATED ARTICLES

ترك الرد

من فضلك ادخل تعليقك
من فضلك ادخل اسمك هنا

Most Popular

Recent Comments